भारत‬ की ‪एकता‬ और ‪‎अखण्डता‬ – ‪ईश्वरवाद‬, ‪सेक्युलरवाद‬, धर्मवाद‬, ‪‎पाखंडवाद‬ और ‪जातिवाद‬ के कारण प्रभावित हो रही है।

#‎भारत‬ की ‪#‎एकता‬ और ‪#‎अखण्डता‬‪#‎ईश्वरवाद‬, ‪#‎सेक्युलरवाद‬, ‪#‎धर्मवाद‬ , ‪#‎पाखंडवाद‬ और ‪#‎जातिवाद‬ के कारण प्रभावित हो रही है। जिसके कारण ‪#‎ग्लोबल‬ पीस इंडेक्स 2015 के अनुसार, भारत देश ‪#‎अशांति‬ के मामले में 162 देशों की सूची में 143 वें स्थान पर है अर्थात ‪#‎दुनिया‬ में कुछ देशों को छोड़ कर सबसे ज्यादा अशांति हमारे अपने देश में है। धीरे धीरे कुछ ‪#‎स्वार्थी‬ तत्वों के कारण अपने देश में अशांति बढ़ती ही जा रही है। ऐसे ‪#‎मानसिक‬ विकारों के कारण भारतीय लोगों में ‪#‎नैतिकता‬, करुणा, ‪#‎मैत्री‬ और ‪#‎शांति‬ समाप्त हो रही है और ‪#‎भारतीय‬ लोग ‪#‎पथभ्रष्ट‬ हो कर अशांति, ‪#‎हिंसा‬, ‪#‎दुश्मनी‬, ‪#‎निर्दयता‬, ‪#‎बेरोजगारी‬, ‪#‎मांसाहार‬ और ‪#‎स्वार्थ‬ की तरफ अग्रसर हो रहे हैं। जोकि देश की एकता और अखण्डता के लिए ‪#‎जहर‬ है।
‪#‎सुदेश‬ ‪#‎कुमार‬
Email: ask@sudeshkumar.in

कृपया मुझ से इस पेज के माध्यम से जुड़ें – www.facebook.com/sudesh.kumar.hindistan

Please, do not forget to join me at: www.facebook.com/sudesh.kumar.india

Advertisements

Leave your opinion @ sudeshkumar.com

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s